विदेश जाने के लिए फ्राड़ एजेंसियों के झांसे में न फंसे युवा वर्ग: रेनू भाटिया

Date:

रोहतक, (प्राइम न्यूज़ ब्यूरो)। हरियाणा राज्य महिला आयोग की अध्यक्षा रेनू भाटिया ने स्थानीय गांधी कैंप महिला आश्रम के नजदीक स्थित वन स्टॉप सेंटर का दौरा किया तथा सेंटर के स्टाफ के साथ पीडि़त महिलाओं को उपलब्ध करवाई जाने वाली सुविधाओं एवं काउंसलिंग बारे जानकारी हासिल की। उन्होंने कहा आयोग द्वारा गत दिनों एक ऐसी फ्रॉड एजेंसी को पकड़ा गया है, जो हवाई जहाज के नकली टिकट बुक करके विदेशों में पढऩे वाले युवाओं को ठगने के कार्य में संलिप्त थे। इस एजेंसी में दो लड़कियां भी शामिल है। इस एजेंसी पर शिकंजा कसा जा रहा है।

युवा विशेषकर लड़कियां ऐसी फ्रॉड़ एजेंसियों के चंगुल में न फसें। अभिभावक इस बारे में बच्चों को जागरूक करें। उन्होंने लड़कियों का आह्वान किया है कि वे मिस्डकॉल तथा अन्य किसी फ्रॉड एजेंसी के जाल में न फसें तथा सोशल मीडिया के प्लेटफोर्मों पर अपने फोटो शेयर करते समय सावधानी बरतें ताकि कोई व्यक्ति इनका दुरुपयोग न कर सकें। उन्होंने कहा कि महिला आश्रम में महिलाओं के साथ रह रहे बच्चों का सम्पूर्ण विकास पर ध्यान दिया जाये ताकि बच्चे मजबूत होकर अपनी माँ का सहारा बन सकें।

महिलाओं को भी कॅप्यूटर इत्यादि का प्रशिक्षण दिया जाये ताकि वे अपनी आजीविका कमा सकें। अभिभावकों को सरकार द्वारा लड़कियों की विवाह की आयु 21 वर्ष करने बारे भी जागरूक किया जाये तथा उनकी मानसिकता में बदलाव के लिए प्रयास किये जाये। लड़कियों को भी इस बारे में परामर्श दिया जाये ताकि वे सशक्त बन सकें। ऐसे सेंटरों में आने वाली महिलाओं को उनकी मौजूदा मानसिक स्थिति से बाहर निकाले। यदि किसी व्यक्ति में सीखने का जज्बा है तो उम्र की सीमा इसमें बाधा नहीं हो सकती।

रेनू भाटिया ने जिला प्रशासन के अधिकारियों के साथ महिला सुरक्षा एवं महिला सशक्तिकरण बारे किया विचार-विमर्श

आयोग की अध्यक्षा रेनू भाटिया ने अतिरिक्त उपायुक्त महेंद्रपाल से जिला में महिला सुरक्षा एवं महिला सशक्तिकरण के बारे में उठाये गए कदमों की जानकारी ली तथा महिलाओं के विरुद्घ होने वाले अपराधों पर विचार-विमर्श किया। रेनू भाटिया ने कहा कि आयोग का यह प्रयास है कि महिलाओं के विरुद्घ अपराध के मामलों का समय पर निपटारा हो तथा जांच अधिकारियों द्वारा निष्पक्षता से पीडि़ता को न्याय दिलवाया जाये। अतिरिक्त उपायुक्त महेंद्रपाल ने कहा कि जिला प्रशासन का हमेशा यही प्रयास होता है कि महिलाओं की सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किये तथा उन्हें सशक्त बनाने के लिए भी प्रयास जारी है। उन्होंने कहा कि बुजुर्गों के भरण-पोषण से संबंधित शिकायतों पर उपमंडलाधीश द्वारा कार्रवाई की जाती है। इस अवसर पर भाजपा की महिला जिलाध्यक्ष उषा शर्मा, हरियाणा राज्य महिला आयोग की विधि अधिकारी पूजा लोधी, सहायक अंजू, अध्यक्षा के निजी सहायक हितेश मेहता, लिपिक अंकुर भारद्वाज, महिला एवं बाल विकास विभाग की जिला कार्यक्रम अधिकारी मंजू जाखड़, संरक्षण अधिकारी परमिन्दर कौर, सीमा, कमलेश, विकास, अजय, चेतना अरोड़ा आदि उपस्थित रहे। के विरुद्घ अपराध के विभिन्न श्रेणियों का पता लगाया जाता है तथा इन दर्ज मामलों का समाधान भी खोजा जाता है। आयोग द्वारा विशेषकर 7वीं से 9वीं कक्षा की लड़कियों को जागरूक किया जाता है ताकि वे साइबर क्राइम का शिकार न हो। कॉलेज जाने वाली लड़कियों को भी सोशल मीडिया पर अपने व्यक्तिगत फोटो सोच समझकर शेयर करने बारे जागरूक किया जाता है ताकि इनका दुरुपयोग न हो सके। उन्होंने कहा कि शिक्षाकाल के विभिन्न स्तरों पर लड़कियों को विशेष प्रकार का प्रशिक्षण दिया जाना चाहिए। स्कूल व कॉलेज में शिक्षा ग्रहण करते समय माहौल बिलकुल अलग होता है। स्कूल से शिक्षा पूरी कर कॉलेज जाने वाली लड़कियों को संबंधित माहौल के बारे में जागरूक किया जाये तथा नौकरी के समय भी मौलिक ज्ञान दिया जाये ताकि वे स्वयं को अपराध का शिकार होने से बचा सकें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Share post:

spot_imgspot_img

Popular

More like this
Related

गंगा और ब्रह्मïपुत्र नदियों की शक्ति को पहचानते हुए शुरू किये गए कार्गों: सोनोवाल

रोहतक, (प्राइम न्यूज़ ब्यूरो)। केंद्रीय बंदरगाह, शिपिंग, जलमार्ग एवं...

राजकीय विद्यालयों में आयोजित किए जाएंगे सांस्कृतिक कार्यक्रम: राकेश गौतम

पलवल, (सरूप सिंह)। उपायुक्त कृष्ण कुमार के कुशल मार्गदर्शन...

देश की अर्थव्यवस्था में हरियाणा का महत्वपूर्ण योगदान: मुख्यमंत्री

नई दिल्ली, (प्राइम न्यूज़ ब्यूरो)। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर...

मांगपत्र लेकर विधायक राजेश नागर से मिले निगम कर्मचारी

फरीदाबाद, (सरूप सिंह)। विधायक राजेश नागर ने कहा कि...