अमृत सरावरों के कार्य की केंद्र व प्रदेश सरकार द्वारा तकनीकी तौर पर की जा रही है निरंतर निगरानी: उपायुक्त

Date:

पलवल, (सरूप सिंह)। आजादी के 75 वर्ष पूर्ण होने के उपलक्ष्य में अमृत महोत्सव मनाया जा रहा है। इसके तहत देश में विभिन्न कार्यक्रम आयोजित करवाए जा रहे हैं। इसी श्रृंखला में जिला में 75 अमृत सरोवर बनाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है और यह अमृत सरोवर एक एकड़ जमीन या उससे अधिक जमीन के क्षेत्र में होना जरूरी है। यह वक्तव्य उपायुक्त कृष्ण कुमार ने मंगलवार को कैंप कार्यालय में विभागों द्वारा किए गए कार्यों की प्रगति की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए व्यक्त किए।

उन्होंने कहा कि जिला में जल्द से जल्द अमृत सरोवरों को चिन्हित किया जाए। इनकी ड्रोन के माध्यम से फोटो खींचकर केंद्र सरकार द्वारा क्रियान्वित किए जा रहे अमृत महोत्सव पोर्टल पर अपलोड की जानी है। उपायुक्त ने कहा कि सभी अधिकारी इस कार्य को गंभीरता से लें, क्योंकि अमृत सरावरों के कार्य की केंद्र व प्रदेश सरकार द्वारा तकनीकी तौर पर निरंतर निगरानी की जा रही है। इस कार्य में किसी भी प्रकार की कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने जिला परिषद की मुख्य कार्यकारी अधिकारी मनीषा शर्मा से कहा कि वे जिला के प्रत्येक खंड को 5-5 अमृत सरोवरों की जिम्मेदारी सौंप दें।

उन्होंने कहा कि पंचायती राज के कार्यकारी अभियंता ग्रे-वॉटर प्रबंधन के तहत लिए गए जोहडों में से 30 ऐसे जोहडों की सूची जिला परिषद को उपलब्ध करवाएंगे, जिनकी मनरेगा के तहत खुदाई करवाई जा सके। खंड के अधिकारियों व तकनीकी कर्मचारियों को इस कार्य को करने के लिए उचित प्रशिक्षण दिया जाए। उपायुक्त ने कहा कि सभी बी.डी.पी.ओ. अपने स्तर पर अमृत सरोवरों को शॉर्टलिस्ट कर लें। इन सरोवरों का फाइनलाइजेशन जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी द्वारा किया जाएगा।

उल्लेखनीय है कि अमृत महोत्सव के तहत सरकार की घोषणा अनुसार प्रत्येक जिले में कम से कम 75 अमृत सरोवरों का निर्माण किया जाएगा। इन अमृत सरोवरों का निर्माण मुख्यत: सरकारी, पंचायती जमीन पर कराया जाएगा, जिसके लिए बंजर भूमि या ऐसी भूमि जिसमें पेड़ आदि न हो या बहुत कम हो, को ही प्राथमिकता दी जाएगी। इन सरोवरों के निर्माण से एक ओर जहां बंजर भूमि का सदुपयोग हो सकेगा वहीं दूसरी ओर जल के संग्रहण व भूजल स्तर बढाने में काफी मदद मिलेगी। इसके अतिरिक्त इन सरोवरों के आस-पास पेड़-पौधे आदि लगवाकर सुन्दर बनाया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Share post:

spot_imgspot_img

Popular

More like this
Related

गंगा और ब्रह्मïपुत्र नदियों की शक्ति को पहचानते हुए शुरू किये गए कार्गों: सोनोवाल

रोहतक, (प्राइम न्यूज़ ब्यूरो)। केंद्रीय बंदरगाह, शिपिंग, जलमार्ग एवं...

राजकीय विद्यालयों में आयोजित किए जाएंगे सांस्कृतिक कार्यक्रम: राकेश गौतम

पलवल, (सरूप सिंह)। उपायुक्त कृष्ण कुमार के कुशल मार्गदर्शन...

देश की अर्थव्यवस्था में हरियाणा का महत्वपूर्ण योगदान: मुख्यमंत्री

नई दिल्ली, (प्राइम न्यूज़ ब्यूरो)। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर...

मांगपत्र लेकर विधायक राजेश नागर से मिले निगम कर्मचारी

फरीदाबाद, (सरूप सिंह)। विधायक राजेश नागर ने कहा कि...